Cryptocurrency से जुड़ा अपराध पहुंचा टॉप पर, जानिए 2021 में निवेशकों ने कितनी रकम गंवाई।

Cryptocurrency से जुड़े अपराध पिछले साल यानि की २०२१ में रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गए। 2020 में Defi  Platform से 162 मिलियन डॉलर की क्रिप्‍टोकरंसी की चोरी हुई थी। जो उस साल की चुराई हुई रकम का 31 प्रतिशत था। 2021 में यह रकम 1330 फीसद बढ़कर 2.3 बिलियन डॉलर हो गई।

Cryptocurrency से जुड़े अपराध मूल्य के मामले में पिछले साल रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गए। बीते साल Illegal  Addresses पर 14 बिलियन डॉलर भेजे गए थे। यानि यह आंकड़ा 2020 के 7.8 बिलियन डॉलर मुकाबले 79 प्रतिशत ज्‍यादा है। ब्लॉकचेन एनालिसिस फर्म Chainalysis के एक ब्‍लॉग के मुताबिक इन  Illegal  Addresses पर पहले से ही 10 बिलियन डॉलर से ज्‍यादा की क्रिप्‍टोकरंसी जमा है, जो ज्‍यादतर Wallet में जमा है।

cryptocurrency-crime-hits-all-time-high

यह भी पढ़े : नए साल में क्रिप्टो बिल और डिजिटल मुद्रा प्रमुख फोकस क्षेत्र : केंद्र सरकार

मामला क्‍या है ?

Illegal  Addresses के सम्बन्ध उन Wallet से हैं, जो आपराधिक गतिविधियों में इस्‍तेमाल किए जाते हैं। आपराधिक गतिविधिया जैसी की, मसलन रैंसमवेयर, पोंजी स्कीम और घोटाले जैसी गतिविधियां। ब्‍लॉग के मुताबिक बीते साल यह लेन-देन बढ़कर कुल 15.8 ट्रिलियन डॉलर हो गई ,जो 2020 के स्तर से 550% से ज्‍यादा था।

फर्म छानबीन में लगी लगी हुई है। 

Chainalysis ने कहा कि 0.15% का आंकड़ा अभी भी बढ़ सकता है। जैसा कि फर्म दूसरे Illegal Address की पहचान करने में जुटी है। वे Address जो illegal लेनदेन में शामिल थे। पहले की रिपोर्ट में Chainalysis ने कहा था कि 2020 में Crypto से जुड़े 0.34 फीसद ट्रांजैक्‍शन Illegal गतिविधियों से जुड़े थे। यह आंकड़ा अब बढ़कर 0.62 फीसद हो गया है।

इसमें Defi सबसे ज्‍यादा जिम्‍मेदार

Chainalysis ने कहा कि क्रिप्‍टो से जुड़े अपराध से सरकारें चौकन्‍नी हो रही हैं और इस पर पाबंदी की तैयारी में हैं। लेकिन इसका शिकार मासूम Investor हो रहे हैं। रिपोर्ट में यह भी कहा गया कि Defi यानि डिसेंट्रेलाइज्‍ड फाइनेंस के बढ़ने से Fund की चोरी और Scam बढ़ रहे है। 2020 में Defi प्‍लेटफॉर्म से 162 मिलियन डॉलर की क्रिप्‍टोकरंसी चोरी गई, जो उस साल की चोरी गई रकम का 31 फीसद था। 2021 में यह रकम 1330 फीसद बढ़कर 2.3 बिलियन डॉलर हो गई।

अपराधी तकनीक से खेल रहे है। 

2021 में DeFi लेनदेन 912% बढ़ा। Chainalysis के रिसर्च हेड किम ग्रेउर के मुताबिक Defi से जुड़े अपराध में बढ़ोतरी दर्शाती है कि कैसे अपराधी नई तकनीक का इस्‍तेमाल कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.